वैचारिक आंदोलन को नई नस्लों तक पहुँचाने का इरादा | Intent to reach ideological movement to new breeds

0
rajendra mathur

नौ अप्रैल की दोपहर देश की हिंदी पत्रकारिता के इतिहास में यादगार दोपहर बन गई । लखनऊ के एतिहासिक प्रेस क्लब ने भारत की आज़ादी के बाद के महानतम पत्रकार,विचारक,संपादक राजेंद्र माथुर की पुण्यतिथि पर भावुक श्रद्धांजलि दी और उनकी निष्पक्ष ,निर्भीक और दबाव से मुक्त पत्रकारिता को नई पीढ़ियों तक पहुँचाने का संकल्प लिया । इस स्मृति सभा में स्वर्गीय माथुर के साथ काम कर चुके वरिष्ठ पत्रकारों और संपादकों ने अपने संस्मरण साझा किए।rajendra mathur Publication of texts

मेरी फ़िल्म कलम का महानायक का प्रदर्शन हुआ। इस आयोजन में बड़ी संख्या में पत्रकारिता की छात्राएँ भी उपस्थित थीं। जिन लोगों ने माथुर जी के बारे में अपने विचार रखे ,उनमें उत्तरप्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार और राज्य के सूचना आयुक्त रहे ज्ञानेंद्र शर्मा, जाने माने पत्रकार और पूर्व सांसद संतोष भारतीय, वरिष्ठ पत्रकार नवीन जोशी, राजेन्द्र कुमार जी, आदर्श प्रकाश सिंह , वंदना जी, लखनऊ प्रेस क्लब के अध्यक्ष रवींद्रसिंह ,वरिष्ठ पत्रकार संतोष तिवारी,नव भारत टाइम्स के स्थानीय संपादक सुधीर मिश्रा, वरिष्ठ पत्रकार मुदित माथुर , मधुकर त्रिवेदी,एन डी टी वी के उत्तरप्रदेश संपादक कमाल ख़ान कमाल, इंडिया टीवी की ब्यूरो प्रमुख रुचिकुमार जैसे अनेक मित्र इस आयोजन का हिस्सा बने। rajendra mathur Publication of texts

इस मौक़े पर मैंने राजेन्द्र माथुर जी पर केंद्रित एक ग्रंथ के प्रकाशन की अपनी योजना की जानकारी दी। इसके अलावा उन पर तेरह वृत्तचित्रों को भी बनाने का निर्णय हुआ। सभी का सहयोग मिला तो अगले साल तक ये दोनों उद्देश्य पूरे हो जाएंगे। शाम को एक बार फिर माथुरजी को याद करने का अवसर मिला ,जब नवभारत टाइम्स कार्यालय में वहाँ कार्यरत संपादकीय सहयोगियों के बीच पहुँचा। स्थानीय संपादक सुधीर जी के आग्रह पर राजेन्द्र माथुर से जुड़े कुछ संस्मरण साझा किए ।पुराने सहयोगी राजकुमार सिंह से मिलना एक सुखद अहसास था। बता दूं कि लखनऊ में यह आयोजन दोस्त दीपक गिडवानी की पहल पर ही संभव हुआ। दीपक ने आनन फानन में सभी को इत्तला करने के लिए एक व्हाट्सअप समूह बनाया और माथुर जी से जुड़े रहे सारे लोग कार्यक्रम का हिस्सा बन गए। दीपक का तहे दिल से शुक्रिया। प्रेसक्लब के अध्यक्ष रवींद्र सिंह ने जिस गर्मजोशी के साथ इसे आकार दिया ,वह भी न भूलने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here