red_ribinclub_railly

इंदौर, (सोशल रिपोर्टर) : इतिहास साक्षी है कि जब भी किसी बड़ी बीमारी ने हमारे देश को अपने चपेट में लिया है तब देश के युवाओं ने उस बीमारी के खिलाफ जन-जागरूकता फैलाकार सभी को उस बीमारी से बचाया है. अगर युवा एकजुट होकर कृतसंकल्पित हो जाये तो बड़ी चुनौती का सफलतापूर्वक सामना कर सकते है. वर्तमान समय में जब देश में एड्स के मरीजों की संख्या बढ़ रही है तब लोगों में जागरूकता लाने के लिए विद्यार्थियों को स्वयं जागृत होना होगा.

विश्व एड्स दिवस के अवसर पर हम इसी बात का संकल्प लें. यह बात आर.पी.एल. माहेश्वरी कॉलेज के प्राचार्य डॉ. राजीव कुमार झालानी ने कही. वे महाविद्यालय के रेड रिबन क्लब द्वारा आयोजित विशाल जन-जागरूकता रैली के समापन के अवसर पर राजबाड़ा स्थित जनता चौक पर संबोधित कर रहे थे. महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी डॉ. मनीष जैन ने बताया कि इस रैली में बड़ी संख्या में महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने भाग लिया एवं महाविद्यालय से शुरू हुई रैली छत्रीबाग, लोधीपुरा, नरसिंह बाजार, क्लाथ मार्केट, गोराकुंड, महात्मा गांधी मार्ग से होती हुई राजबाड़ा चौक पर पहुंची.

इस रैली में कतार बध्ध छात्र-छात्राओं का उत्साह देखते ही बन रहा था, जिनके हाथों में अलग-अलग पोस्टर,बैनर थे जिन पर एड्स के संबंधित जागरूकता के चित्र तथा संदेश लिखे हुए थे. विद्यार्थियों ने ‘’ऐड्स को भगाना है- देश को बचाना है’’, ‘’एड्स नहीं-संकल्प नहीं’’ जैसे नारे लगाए जिससे रैली मार्ग पर रहवासी तथा आने-जाने वाले लोग प्रभावित हुए. राजवाड़ा चौक पर रैली का समापन हुआ तथा विद्यार्थियों द्वारा वहां स्थित देवी अहिल्या उद्यान के चारों ओर मानव श्रृंखला बनाकर सारे नारे लगाए गए तथा पोस्टर्स का प्रदर्शन किया.

प्रारंभ में प्राचार्य डॉ. राजीव कुमार झालानी ने रैली को झंडा दिखाकर रवाना किया एवं रैली के पश्चात सभी विद्यार्थियों को स्वल्पाहार कराया गया. इस अवसर पर महाविद्यालय के विभागाध्यक्ष डॉ. संजीव जटाले, डॉ. अंजना गोरानी, डॉ. मनीष खरगोनकर, प्रो. तरुण लाभांते, प्रो. नमिता सुराणा, प्रो. हेमा नागोरी, प्रो. प्रशांत पटेल, प्रो. शिवांगी जायसवाल, प्रो. गुणदीप सिंह सहित स्टाफ के सदस्य उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here